Connect with us

Technology

वर्जिन हाइपरलूप वन : रफ़्तार 1123 किलोमीटर प्रति घंटा

Technology 23-01-2018 4216

वर्जिन हाइपरलूप वन :  रफ़्तार 1123 किलोमीटर...

अभी तक चीन की फक्सिंग  ट्रेंस जो शंघाई से बीजिंग तक 350  किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से चलती है l लेकिन अब एक ऐसी ट्रेन बनायीं जा रही है जो 1000  किलोमीटर की भी तेज़ रफ़्तार से दौड़ेगी l जी हाँ ये सपना नहीं हकीकत है l अब माग्लेव या मैग्नेटिक लेविटेशन ट्रेन को एक वैक्यूम ट्यूब में रखकर चलाने की योजना पर जोरों से काम किया जा रहा है l इसका ट्रेन का नाम 'हाइपरलूप वन' है.सर रिचर्ड ब्रैंसन की वर्जिन हाइपरलूप वन इस लिहाज से मैग्नेटिक लेविटेशन ट्रेनों में से सबसे नया है l 

अगर हम वर्जिन के हाइपरलूप वन प्रोजेक्ट की बात करें तो ये कभी इसका लक्ष्य नहीं रही थी l "टेस्ला" कंपनी के संस्थापक इलोन मस्क ने पहली बार हाइपरलूप का आइडिया दिया था l लास वेगास से 40 मील उत्तर में मौजूद रेगिस्तान में इस महंगी परियोजना पर काम चल रहा है l इस प्रयोग के लिए 500 मीटर लंबा टेस्ट ट्रैक बनाया गया है l इस परियोजना में 300 लोगों की टीम काम कर रही है जिसमे 200 काबिल इंजीनियरों का दल है l अगर इस ट्रेन का परिक्षण सफल हो गया तो ये आने वाले कल की एक क्रांतिकारी परिवहन व्यवस्था साबित होगी l

माग्लेव या मैग्नेटिक लेविटेशन ट्रेनों के विकास पर काम पहले से चल रहा है l इसमें चुंबक के सहारे ट्रेन अपने ट्रैक के ऊपर से चलती है l इससे दोनों के बीच रगड़ कम होती  है और रफ़्तार बढ़ जाती है l हाइपरलूप वन ने अब तक कई तरह के प्रयोग किए गए हैं और ट्यूब में पॉड की रफ्तार को 378 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार तक ले जाने में कामयाबी पाई जा चुकी है l परन्तु पॉड में अभी तक किसी को बिठाया नहीं गया है l 

अंतरिक्ष वैज्ञानिक अनीता सेनगुप्ता यहाँ इंजीनियरों की इस टीम का नेतृत्व कर रही हैं l अनीता सेनगुप्ता नासा के मार्स क्यूरोसिटी रोवर प्रोजेक्ट को डेवलप करने में भी मदद कर  चुकी हैं l अनीता का भरोसा है कि हाइपरलूप वन प्रोजेक्ट सुरक्षा टेस्ट पास कर जाएगा और साल 2021 तक इसका ऑपरेशन व्यावसायिक रूप से शुरू हो जाएगा l
इस प्रोजेक्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रॉब लॉयड की ये ज़िम्मेदारी है कि वे इस प्रोजेक्ट को एक व्यावसायिक रूप से हक़ीक़त में बदलें और दुनिया की सरकारों को इसे अपनाने के लिए मनाएं l

Please Note : The opinions/views expressed in the above article/content are the personal views/opinions of the author and do not represent the views of Nimbuzz or the Publisher MGTL.
Continue Reading