Connect with us

Entertainment

पद्मावती पे इतिहासकारों की समीक्षा

Entertainment 29-12-2017 448

पद्मावती पे इतिहासकारों की समीक्षा

सेंसर बोर्ड ने फिल्म 'पद्मावती' फिल्म  देखने के लिए जयपुर के दो अनुभवी इतिहासकारों को आमंत्रित किया है और उनसे इस फिल्म पर राय मांगी है। इन इतिहासकारों में प्रोफेसर बी.एल. गुप्ता और प्रोफेसर आर.एस. खांगरोट शामिल हैं। संजय लीला भंसाली की ये फ‍िल्‍म व‍िरोध के चलते लटकी हुई है, पहले ये फ‍िल्‍म 1 द‍िसंबर को र‍िलीज होने वाली  थी।
गुप्ता राजस्थान विश्वविद्यालय में इतिहास के प्रोफेसर हैं और वे मध्ययुगीन काल के दौरान भारत पर कई किताबें लिख चुके हैं, जबकि खांगराट अग्रवाल कॉलेज मुखिया  हैं। खांगराट ने कहा, "फिल्म 'पद्मावती' को लेकर टकराव  कर्णी सेना और निर्माता-निर्देशक संजय लीला भंसाली के बीच ही नहीं, बल्कि भंसाली और इतिहासकारों के बीच भी है, यही वजह है कि हम एक बार फिल्म देखेंगे, जिससे स्पष्ट हो जाएगा कि इसमें इतिहास के साथ छेड़छाड़ की गई है या नहीं।"
गुप्ता ने कहा कि भले ही ये फिल्म कलात्मक स्वतंत्रता है, लेकिन यह इतिहास के साथ समझौते  पर नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा की  "यह स्पष्ट होना चाहिए कि हम ऐतिहासिक तथ्यों को सर्वश्रेष्ठ ज्ञान से जागरूक करें और इसमें  किसी भी राजनीतिक दल का कोई  समर्थन नहीं करेंगे।"
सूत्रों के अनुसार, अगले महीने जनवरी में फिल्म की समीक्षा करने के लिए एक चार सदस्यीय पैनल का गठन किया गया है।

Please Note : The opinions/views expressed in the above article/content are the personal views/opinions of the author and do not represent the views of Nimbuzz or the Publisher MGTL.
Continue Reading

Trending